हालिया

  • ग्ग्रामीण विकास विभाग दे कश्मीर निदेशालय दा मकसद, ढांचागत विकास, टिकाउ संपत्तियें दा निर्माण करना ते रोजगार दे मौके पैदा करना, जिंदे च उजरत ते स्वरोजगार कायम करना बी शामल ऐ, दे सरबंधै कन्नै ग्रामीण अर्थबवस्था गी विकसित करना ऐ। ग्रामीण विकास कार्यक्रमें दे बुनियादी मकसद, मुंडला समाजी ते आर्थिक ढांचा कायम करियै, गरीबी ते बेरोजगारी खत्म करना, ते ग्रामीण बेरोजगार लोकें गी रोजगार उपलब्ध करोआना ऐ तांजे शैह्री इलाकें बक्खी होने आह्ले मौसमी ते स्थाई प्रवास गी रोकेआ जाई सकै।

    ग्रामीण विकास विभाग दे कश्मीर निदेशालय च कश्मीर घाटी दे 10 जिले शामल न। एह्दे च 137 सीडी ब्लाक न।

    निदेशालय, सैक्रेटेरिएट स्तर उप्पर ग्रामीण विकास मैह्कमे दे प्रशासनिक नियंत्रण हेठ ऐ, जेह्दी अगुवाई सरकार दे कमिशनर / सैक्रेटरी रैंक दे अधिकारी पास्सेआ कीती जंदी ऐ। सूबाई स्तर उप्पर, निदेशालय दी अगुवाई उस डरैक्टर आसेआ कीती जंदी ऐ जेह्ड़े माली अख्तियारें सरबंधी जम्मू-कश्मीर बुक ऑफ फाइनेंशियल पावर दे मामले च मैह्कमे दे प्रमुक्ख हुंदे न। ओह् पूरे सूबे उप्पर प्रशासनिक ते माली नियंत्रण रक्खदे न ते ज्वाईंट डरैक्टर (प्रशासन), सुप्रिन्टेंडिंग इंजीनियर आरईडब्ल्यू कश्मीर, डिप्टी डरैक्टर (प्लैनिंग), जिला पंचैत अधिकारी (प्रचार), ब्लाक विकास अधिकारी (मुख्यालय), एकाउंट्स अधिकारी ते होर दुआ लोड़चदा अमला, निदेशालय च रोजमर्रा दे कम्मकाज गी तोढ़ चाढ़ने लेई उंदा सैह्योग करदा ऐ।